Vidyarthi Mitra

image

About these ads

14,906 thoughts on “Vidyarthi Mitra

  1. सुनिताजी हमें अडवांस होली मुबारक दे रही है। सब स्वार्थी है

  2. Trade Online – Brokerage 15p & 2p –
    http://www.ventura1.com Home Pasandida Khabarein
    अब विद्यार्थी मित्रों ने किया अर्द्धनग्न प्रदर्शन,
    मांगी नौकरी
    Dainikbhaskar.com |
    Jul 28, 2014, 01:17:00 PM IST
    जयपुर। राजस्थान विद्यार्थी मित्र शिक्षक संघ की ओर से
    सोमवार को उद्योग मैदान में प्रदर्शन
    का नया तरीका अपनाया गया। इस दौरान यहां मौजूद
    सैकडों विद्यार्थी मित्रों ने अर्द्धनग्न प्रदर्शन किया और सरकार
    से नौकरी की मांग की।
    उन्होंने सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की और नौकरी मिलने
    तक आंदोलन जारी रखने की चेतावनी दी। पिछले कई दिनों से
    विद्यार्थी मित्र यहां धरने पर बैठे हैं और सरकार तक अपनी मांग
    पहुंचाने के लिए आए दिन प्रदर्शन का तरीका बदल रहे हैं।
    प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए संघ के प्रदेश संयोजक
    अशोक सिहाग ने कहा कि सरकार उनकी नहीं सुन रही। वे कई
    मंत्रियों और विधायकों से मिल चुके हैं। सबको उनकी मांग जायज
    तो लगती है,लेकिन इस समस्या के समाधान के लिए कोई आगे
    नहीं आना चाहता। सरकार की ओर से अभी तक उन्हें नौकरी के लिए
    कोई आश्वासन नहीं दिया गया है।

  3. Chalo jaipur or order pao ab nahi to kabhi nahi
    Bhaio in mantriyon pr mat jao in ki budhi kharab hoti h koi kuch bhi kahe mgr pad suraksha se kam kuch nahi. Ab jaipur padav dalo or apna hq mango nahi chhin lo!

  4. Kaliya uncle ne aaj or petra badla ha mantriyo se mahadhivktao se kanuni rai li ja rahi ha BHAGWAN NE CHAHA TO KUCH NA KUCH RASTA NIKLEGA esa uncle ne aaj samachar plus pe bhokha ha

  5. Bharosa rakho or age bado.
    Ab jaipur ko ghar or udhyog maidan ko school bana lo. App sabhi se meri prarthna pls jpr a jao. Apko apne azeezo ka basta h

  6. कब तक जयपुर बैठोगे। कुछ करो ।कल युग में लड़ना पड़ता है। हमारी ज़िन्दगी तबाह करदी

  7. सभी विधार्थी मित्र भाईयो और बहनो यदि अपको कुछ करना व आगे बढना है है तो आप को घर से बाहर निकला ही होगा अन्यथा हमारी जीत कही नजर नही आ रही क्योकि धरने पर मोजौद सख्या को देखकर ऐसा ही लगता है अत आप सभी से मेरा निवेदन है कि अधिक से अधिक सख्या में पधार कर संगठन का साथ निभाय़े

  8. आज कल परसों ये सुनते सुनते हम overage हो गए। धरना पड़ाव घेराव करते करते परेशान हो गए। अब तो हमारे अच्छे दिन कहा गए। काश congress को वोट दिया होता।ं

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s